आरती कुंज बिहारी की ।।

"आरती कुंज बिहारी की" ।।

आरती कुंज बिहारी की, श्री गिरधर कृष्ण मुरारी की ।।

गले में बैजंती माला, बजावे मुरली मधुर बाजा ।।
श्रवण में कुंडल झलकाला, नन्द के आनन्द नंदलाला,
मोहन वृजचन्द, परमानन्द ।।
राधिका रमन बिहारी की, श्री गिरधर कृष्णमुरारी की..
आरती कुंज बिहारी की..

गगन सम अंग काँति काली, राधिका चमक रही आली,
लतन में ठाढ़े बनमाली ।।
भ्रमर सी अलक, कस्तूरी तिलक, चन्द्र सी झलक,
ललित छवि श्यामा प्यारी की, श्री गिरधर कृष्ण मुरारी की..
आरती कुंज बिहारी की...

कनकमय मोर मुकुट बिलसे, देवता दरसन को तरसे,
गगन सो सुमन रासी बरसे ।।
बजे मुरचंग, मधुर मृदंग, ग्वालिनि संग,
अतुल रति गोप कुमारी की..श्री गिरधर कृष्ण मुरारी की..

आरती कुंज बिहारी की..

जहां से प्रगट भई गंगा, कलुष कलि हारिणी श्री गंगा,
स्मरण से होत मोह भंगा ।।
बसी शिव शीश, जटा के बीच, हरे अघ कीच;
चरण छवि श्री बनवारी की..श्री गिरधर कृष्ण मुरारी की..

आरती कुंज बिहारी की..

चमकती उज्जवल तट रेणु, बज रही वृन्दावन बेणु,
चहुँ दिसी गोपी ग्वाल धेनु ।।
हंसत मृदु मंद, चांदनी चन्द, कटत भव फंद,
टेर सुनो दीन भिखारी की.. श्री गिरधर कृष्ण मुरारी की..

आरती कुंज बिहारी की..श्री गिरधर कृष्ण मुरारी की..

हमारे यहाँ बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य, विद्वान् एवं संख्या में श्रेष्ठ ब्राह्मण उपलब्ध हैं ।।

वास्तु विजिटिंग के लिए अथवा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने या कुण्डली बनवाने के लिए:-

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केंद्र, शॉप नं.-19, बालाजी टाउनशिप, तिरुपति बालाजी मंदिर, आमली, सिलवासा ।।

Contact to Mob :: +91 - 8690522111.

www.astroclasses.com
www.balajivedvidyalaya.blospot.in
www.fb.com/balajivedavidyalaya

।।। नारायण नारायण ।।।

 

Related Posts

Contact Now