वास्तु शास्त्र के अनुसार गर्भवती महिलाओं को घर के किस कोने में शयन करना चाहिए ? ।।

वास्तु शास्त्र के अनुसार गर्भवती महिलाओं को घर के किस कोने में शयन करना चाहिए ? ।। Garbhavati Mahilaon ke Liye Ghar Ka Kaun Sa Kona Achchha Rahega.


हैल्लो फ्रेंड्सzzz.


 


मित्रों, ज्योतिष, वेद एवं वास्तु के हर महत्वपूर्ण विषयों की जानकारी समय समय पर आपलोगों को देता रहता हूँ । तो फिर आज आइये मैं आपलोगों को एक ऐसी वास्तु टिप्स बता रहा हूँ, जिसकी शायद हर किसी के लिए जानना आवश्यक है ।।


 


वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी भी गर्भवती महिला को घर के किस कोने में सोना चाहिए ???

मित्रों, वास्तु-शास्त्र के अनुसार घर के उत्तर-पश्चिम कोण को वायव्य कोण कहते है ।।

और इस कोण का तत्त्व वायु होता है, तथा आप सभी जैसा कि जानते हैं, कि वायु की प्रकृति स्वभाव से ही चंचल होती है ।।

मित्रों, वायब्य कोण का ग्रह देवता चन्द्रमा है, और चन्द्रमा भी चलायमान होता है ।।

सबसे बड़ी एवं गंभीर बात ये है, कि वायव्य कोण में सोने से किसी के भी जीवन में अस्थिरता आती चली जाती है ।।

और इसीलिए किसी भी गर्भवती महिला को इस कोण में नहीं सोना चाहिए, क्योंकि इस कोण में सोने से गर्भ-पात होने की संभावनायें बढ जाती है ।।

इसलिए मित्रों, आपलोगों में से जिस किसी दंपत्ति का कमरा घर के इस कोण में हो, उनको कुछ दिनों के लिए ही सही दुसरे कमरे में शयन करना चाहिए ।।


 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

 

Related Posts

Contact Now