फाँसी लगाकर अथवा जल में डूबकर मरने के योग ।।

फाँसी लगाकर अथवा जल में डूबकर मरने के योग ।। The Yoga of the death by hanging or drowning in water.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

 

मित्रों, किसी जन्मकुण्डली में कर्क राशि का मंगल अष्टम भाव में बैठा हो तो जातक पानी में डूबकर आत्महत्या कर लेता है ।।

मित्रों, शनि कर्क एवं चन्द्रमा मकर राशि में हो तो जल से अथवा जलोदर से मृत्यु होती है । शनि चतुर्थस्थ, चन्द्रमा सप्तमस्थ और मंगल दशमस्थ हो तो कुएं में गिरने से मृत्यु होती है ।।

स्त्री की जन्म कुण्डली में सूर्य एवं चन्द्रमा लग्न से तृतीय, षष्ठम, नवम अथवा द्वादश भाव में स्थित हो और पाप ग्रहों की युति या दृष्टि हो तो ऐसी महिला फाँसी लगाकर या जल में कूद कर आत्म हत्या कर लेती है ।।

किसी महिला की जन्मकुण्डली में मंगल दुसरे भाव में हो, चन्द्रमा सप्तम भाव में हो और शनि चतुर्थ भाव में हो तो स्त्री कुएं, बाबड़ी अथवा तालाब में कूद कर अपने प्राण गँवा देती है ।।

=============================================
  
 
वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।
 
 
 
==============================================

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।
 
 
 
WhatsAap & Call:   +91 - 8690 522 111.
 
E-Mail :: astroclassess@gmail.com
 
 
 
 
 

।।। नारायण नारायण ।।।

 

Related Posts

Contact Now