कुण्डली में गुरू ग्रह वक्री हो तो क्या शुभ या अशुभ फल देता है ।।

0
675
Surya Ki Sthiti Anusar fal

कुण्डली में गुरू ग्रह वक्री हो तो क्या शुभ या अशुभ फल देता है ।। kundali Me Vakri Guru ka fal.

हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

मित्रों, आज हम वक्री गुरु के शुभाशुभ फल के विषय में विस्तृत बात करेंगे । सामान्यतः बृहस्पति विद्या और बुद्धि के स्वामी ग्रह माने जाते हैं ।।

इस ग्रह से संबंधित लोग अध्ययन, अध्यापन, स्वर्ण के व्यवसाय, आध्यात्म, राजनीति, प्रबंधन, मुद्रा क्रय-विक्रय, चिकित्सा, इंजिनियरिंग, कूटनीतिक सलाहकार, राजदूत इत्यादि क्षेत्रों में आसानी से सफलता अर्जित करते हैं ।।

जिस स्त्री जातक की कुण्डली में बृहस्पति शुभ स्थान और शुभ प्रभाव में होता है । उसे सामाजिक मान-सम्मान तथा ऊँचे पद-प्रतिष्ठा और सांसारिक सुख सहजता से प्राप्त हो जाता है ।।

astro classes, Astro Classes Silvassa, astro thinks, astro tips, astro totake, astro triks, astro Yoga

मित्रों, यही गुरू जब वक्री होता है तब उसके शुभ या अशुभ फल देने के स्वभाव में कोई अंतर नहीं आता । किसी कुण्डली में सामान्य रूप से शुभ फल देने वाले गुरू वक्री होने की स्थिति में भी उस कुंडली में शुभ फल ही देते हैं ।।

साथ ही किसी कुण्डली में सामान्य रूप से अशुभ फल देने वाले गुरू वक्री होने की स्थिति में भी उस जातक को अशुभ फल ही देते हैं । किन्तु वक्री होने से गुरू के व्यवहार में कुछ बदलाव अवश्य आ जाता है ।।

वक्री होने की स्थिति में गुरू कई बार शुभ या अशुभ फल देने में भी देरी करते हैं । वक्री होने की स्थिति में गुरू बहुत बार जातक को दूसरों को बिना मांगी सलाह या उपदेश देने की आदत प्रदान कर देते हैं ।।

ऐसे लोगों को बहुत बार अपने ज्ञान का इस्तेमाल करने की सही दिशा का पता नहीं लगता । इसी आदत के चलते ऐसे लोग कई बार अपने आस पास के लोगों को व्यर्थ में ही उपदेश देना शुरू कर देते हैं ।।

इन बदलावों के अतिरिक्त आम तौर पर वक्री गुरू अपने सामान्य स्वभाव की तरह ही आचरण करते हैं । अगर आपकी कुण्डली में बैठा गुरु आपको अशुभ फल दे रहा हो तो आप हमारे वेबसाइट पर अन्य लेखों में लिखे उपायों को करके शुभ फल प्राप्त कर सकते हैं ।।

बृहस्पति कमजोर हो तो आपको अपने माता-पिता की विशेष सेवा करनी चाहिए । अपने सभी गुरुओं, जिससे छोटा या बड़ा किसी भी तरह का ज्ञान आपने प्राप्त किया है, उसके लिए उनका शक्रगुजार होना चाहिए ।।

साथ ही यदि वे आपको कोई आज्ञा दें, तो उनका पालन भी आपको करना चाहिए । इससे आपके उपर पड़नेवाला बृहस्पति का बुरा प्रभाव कम होगा । पीले रंग की वस्तु का भूलकर भी दान न करें ।।

Hamara Jivan And Grahon Ka Khel

ज्योतिष के सभी पहलू पर विस्तृत समझाकर बताया गया बहुत सा हमारा विडियो हमारे  YouTube के चैनल पर देखें । इस लिंक पर क्लिक करके हमारे सभी विडियोज को देख सकते हैं – Click Here & Watch My YouTube Channel.

इस तरह की अन्य बहुत सारी जानकारियों, ज्योतिष के बहुत से लेख, टिप्स & ट्रिक्स पढने के लिये हमारे ब्लॉग एवं वेबसाइट पर जायें तथा हमारे फेसबुक पेज को अवश्य लाइक करें, प्लीज – My facebook Page.

वास्तु विजिटिंग के लिये तथा अपनी कुण्डली दिखाकर उचित सलाह लेने एवं अपनी कुण्डली बनवाने अथवा किसी विशिष्ट मनोकामना की पूर्ति के लिए संपर्क करें ।।

किसी भी तरह के पूजा-पाठ, विधी-विधान, ग्रह दोष शान्ति आदि के लिए तथा बड़े से बड़े अनुष्ठान हेतु योग्य एवं विद्वान् ब्राह्मण हमारे यहाँ उपलब्ध हैं ।।

संपर्क करें:- बालाजी ज्योतिष केन्द्र, गायत्री मंदिर के बाजु में, मेन रोड़, मन्दिर फलिया, आमली, सिलवासा ।।

WhatsAap & Call: +91 – 8690 522 111.
E-Mail :: astroclassess@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here