अथ श्रीबृहस्पति अष्टोत्तरशत नाम स्तोत्रम् ।।

अथ श्रीबृहस्पति अष्टोत्तरशत नाम स्तोत्रम् ।। Brihaspati Ashtottarshat Name Stotram गुरु बीज मन्त्र – ॐ ग्राँ ग्रीं ग्रौं सः गुरवे

Read more

जातक की मृत्यु में चन्द्रमा की भूमिका।।

किसी की मृत्यु का कारण चन्द्रमा भी सकता है? परन्तु कैसे? आइये इसपर विस्तृत चर्चा करते हैं।। Mrityu Ka Karan

Read more

फाँसी लगाकर अथवा जल में डूबकर मरने के योग ।।

फाँसी लगाकर अथवा जल में डूबकर मरने के योग ।। the yoga of the death by hanging or drowning in

Read more

नवों ग्रहों की अशुभ दशा का फल ।।

नवों ग्रहों की अशुभ दशा का फल ।। Navgrahon Ki Ashubh Dasha Ka Phal. हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz, मित्रों, कुण्डली में कोई

Read more

किस्मत बदलने के कुछ सामान।।

किस्मत बदलने हेतु इन वस्तुओं को अपने घर में अथवा पलंग के नीचे रखें।। change your bad luck. हैल्लो फ्रेण्ड्सzzz,

Read more

अथ श्री नवग्रह पीडाहर स्तोत्रम् ॥

अथ श्री नवग्रह पीडाहर स्तोत्रम् ॥ Navagraha Pidahara Stotram. ग्रहाणामादिरादित्यो लोकरक्षणकारकः । विषमस्थानसंभूतां पीडां हरतु मे रविः ॥ १॥ रोहिणीशः सुधामूर्तिः

Read more

अथ श्री नवग्रहस्तोत्रम् ।।

अथ श्री नवग्रहस्तोत्रम् ।। Navgrah Stotram. ज्योतिर्मण्डलमध्यगं गदहरं लोकैक-भास्वन्मणिं मेषोच्चं प्रणतिप्रियं द्विजनुतं छायपतिं वृष्टिदम् | कर्मप्रेरकमभ्रगं शनिरिपुं प्रत्यक्षदेवं रविं ब्रह्मेशान-हरिस्वरूपमनग़्हं

Read more

अथ श्री नवग्रहध्यानम् ।।

अथ श्री नवग्रहध्यानम् ।। Navgrah Dhyanam. ।। श्रीगणेशाय नमः ।। अथ सूर्यस्य ध्यानं -(त्रिपुरासर्वस्वे) प्रत्यक्षदेवं विशदं सहस्रमरीचिभिः शोभितभूमिदेशम् | सप्ताश्वगं

Read more

अथ श्री शनैश्चर स्तोत्रम् ।।

ॐ शनैश्चरः स्वधाकारी छायाभूः सूर्यनन्दनः । मार्तण्डजो यमः सौरिः पङ्गूश्च ग्रहनायकः ॥ १॥ ब्रह्मण्योऽक्रूरधर्मज्ञो नीलवर्णोऽञ्जनद्युतिः ।। द्वादशैतानि नामानि त्रिसन्ध्यं यः

Read more

अथ श्रीशनि वज्रपञ्जर कवचम् ।।

शनि की बुरी से बुरी दशा की निवृत्ति हेतु इस शनि वज्र पञ्जर स्तोत्रं अथवा कवचम् का पाठ करें ।

Read more